Backlinks

Backlinks in SEO ? Top Best tips for beginners in 2020

What is Backlinks?? How to create quality backlinks??

Backlinks क्या है और कैसे बनाएं। आज हम इस विषय पर चर्चा करेंगे। backlinks क्या है और हम कैसे backlinks जनरेट कर सकते हैं। backlinks हमारे website के लिए क्यों जरूरी है। कैसे हम free में quality backlinks जनरेट कर सकते हैं। Backlink importance

Backlinks क्या है और कैसे generate करें?

Backlink का मतलब है कि आपकी website का कोई page किसी और website से link होता है। अगर आपके website में traffic नहीं होने के कारण आप परेशान हैं तो आपके लिए backlink बहुत अच्छे साबित हो सकते हैं आप अपने किसी page का URL link किसी popular website के page पर share कर सकते हैं या किसी blog के comment box में जाकर share कर सकते हैं।

यदि वह website honour आपके comment को approve कर दे तो आपकी website का link rank होने लगता है। उस website के visitor आपकी website पर भी आने लगते हैं जिससे आपकी site पर traffic बढ़ जाता है। हम कह सकते हैं कि backlink हमारे website के traffic को बढ़ाने में सहायक होता है।

Backlinks in hindi


यदि आप जानना चाहते हैं कि backlink  क्या है और कैसे बनते है। तो आप आज बिल्कुल सही जगह पर है।आज हम इसी बात पर चर्चा करेंगे की किस प्रकार आप qualtiy backlinks बनाकर अपनी वेबसाइट के visitors या traffic को बढ़ा सकते है।
किसी भी blogger के लिए यह बहुत जरूरी है कि उसकी website पर ट्रैफिक आए। इसके बिना blogger का कोई फायदा नहीं होगा।

जो लोग ब्लॉग फील्ड से है उन्हें backlinks के बारे में पता होता है। आज में आपको बकलिंक के बारे मैं बता रहा हूं। बैकलिंक क्या है और कैसे बनते है। बैकलिंक कितने प्रकार के होते हैं। बैकलिंक की सहायता से आप अपने ट्रैफिक को बढ़ा सकते हैं और google में top rank पर आ सकते है।

Elements of Backlinks ?

1) Link Juice: 

जब किसी web page का link आपके website के किसी एक article के link से आपके होमपेज से कनेक्टेड होता है तो वहां से link flow हो कर आपके website तक पहुँचता है इसे हम link juice कहते हैं।  ये हमारे article को rank करने में सहायता करता है तथा हमारे domain authority को भी बेहतर बनता है।

2) High quality links: 

High quality links quality website से जेनरेट होती है। जो popular website होते हैं और उनका रैंक google में हाई रहता है। ये क्वालिटी वेबसाइट होती है। यदि हमारी website में भी quality website से backlink मिलते हैं तो search engine में website को high ranking प्राप्त होती है।

Quality backlink में यह ध्यान रखें कि आपको हमेशा relevant sites से backlink मिले। इसका मतलब है की हमारा blog जिस niche पर बना है उसी niche से related दुसरे blog के साथ ही backlink को पाए ।  जैसे मान लीजिये की हमारा blog Marketing के ऊपर है तो हमें  से marketing related ही दुसरे blog से backlink  हासिल करना होगा और किसी दुसरे टॉपिक से रिलेटेड  blog से link create करेंगे तो इससे आपको कोई भी फायेदा नहीं होगा।

3) Internal links:

ये वो link होते हैं जिसमें हमारी वेबसइट के पेज आपस में कनेक्ट होते है। हमारी website के एक page से लेकर दुसरे page तक जाते हैं, इसे हम इन्हें internal links कहते हैं। जैसे कि हमारी website का एक article google के page में टॉप rank पर है और हम अपने दुसरे article को भी उसी की तरह google पर टॉप rank पर लान के लिए दोनो article को एक दुसरे के साथ link कर सकते हैं.

4. Low quality links:

Low quality links वो links है जो किसी spam sites या फिर गलत साइट से हमारी website पर आ ती है।  ऐसे links आपके website को सिर्फ नुक्सान ही पंहुचा सकती है, इसलिए जब भी हम backlink का उपयोग करते हो तो इस चीज का ध्यान जरुर रखें की वो link high quality link से जुडी होनी चाहिए।

Type of backlink?

Backlink कितने प्रकार के होते हैं – Types of Backlinks?

Backlink दो प्रकार के होते हैं एक है dofollow backlink और दूसरा  nofollow backlink. आगे हम इन दोनों के बारे में विस्तार से पढ़ेंगे।

1-DoFollow Backlink

Do-follow backlink link juice को pass करने में मदद करता है।  ये लिंक एक website से दुसरे website में जाने का माध्यम बनता है, link बनाता है । ये बैकलिंक  do-follow बैंक link कहलाते हैं। हमारे द्वारा जितने भी  links जो दुसरे website पे दिए जाते हैं वो सभी do-follow backlink होते हैं।

DoFollow link हमारी site की ranking को Google में टॉप पर लाने में मदद करते हैं और ये हमारे blog के लिए काफी फायेदेमंद होते है। उदाहरण नीचे दिया गया है।

<a href=”yourwebsite.com“>Link Text</a>

2-  NoFollow Backlink

Nofollow backlink का काम लिंक जूस को पास करना नहीं होता। ये लिंक हमारी प्रोफाइल को एक नेचुरल लुक देते है। यदि हमारी वेबसाइट पर सारे लिंक डो फॉलो होंगे तो गूगल जानेगा कि हमारी प्रोफाइल नेचुरल नहीं है। इस वजह से हमें नुकसान हो सकता है।
यदि हमारी site में किसी और site का लिंक है लेकिन हमें वह पसंद ना आये तो हम उस link के साथ NoFollow attribute add कर देंगे। जीससे हमारी website का link उस website तक नहीं जा पायेगा।

दोस्तों आज मेरा यह आर्टिकल Backlinks क्या है और कैसे बनाएं। अगर आपको पसंद आए तो कमेंट जरुर कीजिए। मेरा यह ब्लॉग ज्यादा से ज्यादा सोशल मीडिया पर शेयर कीजिए ताकि आपके और भी मित्र या भाई इस आर्टिकल को पढ़ सकें और इसका फायदा उठा सकें।

Leave a Comment